Atiq Ahmad Biography: Prime Minister से लेकर Judge तक डरते थे, Yogi लगा रहे ठिकाने








17 साल की उम्र में जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही अतीक अहमद के खिलाफ पहला मुकदमा दर्ज हुआ और वो भी हत्या का. साल 1979 में 17 साल की उम्र में अतीक अहमद पर कत्ल का इल्जाम लगा. उसके बाद जुर्म जैसे अतीक का शग़ल बन गया और अतीक ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. पढ़ाई के पन्ने तो कोरे थे लेकिन साल दर साल उनके जुर्म की किताब के पन्ने भरते जा रहे थे.
अतीक कैसे बना.. कैसे फला फूला.. ये जानना भी बेहद दिलचस्प है… कभी इलाहाबद में चांद बाबा का खौफ हुआ करता था.. जिसके सामने जाने से पुलिस भी कांपती थी…

39 Comments on “Atiq Ahmad Biography: Prime Minister से लेकर Judge तक डरते थे, Yogi लगा रहे ठिकाने”

  1. बे न्यूज़ चैनल वालो जज कभी केस कहा लड़ता वो तो सुनवाई करके फैसला देता है ।केस तोह वकील लड़ता है।

  2. हिन्दूओ के लिए बजरंग दल व आर एस एस ओर मुसलमान के लिए अतिक अहमद शेर / शेर ,शेर तो लङेगे भाई यही तो है

  3. यही फ़र्क़ है योगी सरकार में ओर बाक़ी की सरकारों में जंहा बाक़ी की सरकारें अतिक अहमद को मुक़दमे होने के बावजूद चुनाव में टिकट देती गयी..ओर जब योगी सरकार आयी तब अतिक अहमद कीं टिकट काट दीं गयी👏👏
    जय हों योगी सरकार✌️

Leave a Reply

Your email address will not be published.